स्वच्छ भारत पर निबंध । Essay On Swachh Bharat in Hindi

हम उस देश का हिस्सा हैं जो अपनी परिपूर्णता और गौरवशाली रीति- रिवाजों के लिए वर्षों से जाना जाता रहा है। भारत जैसे स्वर्णिम राष्ट का मकसद अपनी स्वछता व शुद्धता बरकरार बनाकर रखना है।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा लागू किये गए इस स्वच्छ भारत अभियान का मुख्य उद्देश्य भारत की स्वच्छता को और पूर्ण रूप से बनाये रखना था। हर देश का सबसे पहला सपना होता है इसकी स्वछता जो गाँधी जी का था पूरे भारत का स्वच्छता के चादर में देखना।

अभियान का उद्देश्य

महात्मा गांधी के जयंती के मौके पर आदरणीय देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने इस अभियान को लाने का फैसला किया, और फिर प्रधानमंत्री जी ने 2 अक्टूबर के दिन सबसे महान महात्मा गांधी को राजघाट पर श्रद्धांजलि दी थी और इसके बाद दिल्ली में बने वाल्मीकि बस्ती में कदम रखा और सफाई के उद्देश्य से झाड़ू भी लगाई।

स्वच्छ भारत अभियान का हिस्सा बनना सभी के सपना था और एक चुनौती भी। कारण इस अभियान को सफल देखना मोदी जी का सपना था और उस सपने के उद्देश्य पूर्ति के लिए सभी को एक साथ मिलकर सामने साथ देना था।

स्वच्छता अभियान के लागू का कारण

स्वच्छता अभियान की सफलता के लिए सभी लोग बढ़ चढकर इसमें भाग लिए और कई नेताओं और आम नागरिक, टेलीविज़न पर काम करने वाले अभिनेताओं ने भी जम कर योगदान दिया।

सफाई अभियान जैसे पवित्र उदेश्य के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी जी ने इसे कामयाब बनाने के लिए जी तोड़ मेहनत की हैं। स्वच्छता जैसे लक्ष्य की पूर्ति के लिए इस अभियान को 2 अक्टूबर, वर्ष 2014 को गाँधी जयंती के अवसर पर शुरू किया गया था जो गाँधी जी का ख़्वाब था परन्तु वे इस स्वपन को साकार नही कर पाए थे।

फिर सरकार ने इस अभियान को रोशनी देते हुए इसकी शुरुआत की। इस अभियान को स्वच्छ भारत मिशन अथवा स्वच्छता अभियान भी कहते हैं।

मोदीजी की इस स्वच्छ भारत अभियान के द्वारा कुल 4041 अविकसित नगरों में शौचालय, पैदल चलने का मार्ग, गालियां व सड़कें को स्वच्छता का मुद्दा बनाया गया।

सरकार के इस अभियान से भारत को साल 2019 तक पूरी मेहनत कर साफ कर दिया गया। स्वच्छ भारत अभियान की सहायता से पूरा देश सफाई से पूर्ण, स्वस्थ व सफल ज़िन्दगी के योग्य बन सकता है।

स्वछता अभियान की सफलता

केंद्र सरकार व मोदी जी द्वारा लाये गए इस स्वच्छ भारत अभियान की शुद्ध और अच्छा है l फिर इस अभियान में उनके द्वारा किए गए शुरुआत के कोशिशें भी काबिले तारीफ़ है। कारण पूरे देश में भारत  के लिए विचार बहुत ही नकारात्मक है।

कई वर्ष पहले ही हमारे पड़ोसी देश china के कई साइट्स पर गंगा नदी मैं तैर रहे लावारिस लाशों व भारत की सड़कों पर कचड़े के ढेर के बारे कई खबरें फैलती रही, आज हमारे देश के कई विशाल व महँगे शहर स्वच्छता के मामले में बहुत गंभीर हो गए हैं और इसलिए ऐसे जगहों पर कहीं भी कूड़े फैले व बिखड़े हुए नहीं दिखते।

इन सबका उदाहरण है भारत के मशहूर राज्य मध्य प्रदेश का सबसे विशाल शहर इंदौर जिसने निरन्तर पांच सालों से स्वच्छ भारत के होने का खिताब हासिल किया l

निष्कर्ष

अंततः इस सफाई के अभियान को सभी राज्यों, देशों व आविकसित इलाकों की सफाई के उदेश्य हेतु शुरू किया गया है। स्वच्छ भारत अभियान को लागू करने का मुख्य कारण भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की स्वछता का सपना पूर्ण करना है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!