बारिश पर निबंध । Essay on Rainy Day in Hindi

बारिश के मौसम का एक अलग ही आनंद होता है । ये बारिश का मौसम सभी के लिए एक अपना नही महत्व होता है । भीषण गर्मी से तप रहे लोगो के लिए वर्षा ऋतू का बहुत बेसब्री से इंतजार होता है । जब भी बारिश के दिन आता है सभी के लिए एक राहत की साँस होता है ।

अगर देखा जाये तो एक आम आदमी के लिए गर्मी से राहत दिलाना ही असली मतलब होता है बारिश के मौसम का । जब भी बरसात होती है मनुष्य क्या सभी पशु पक्षी भी अपने जीवन में राहत महसूस करते है । चारो तरफ का मौसम ठंडा हो जाता है सभी चीज साफ सुथरी धुली हुई दिखाती है, जो देखने में एक अलग ही आनंद महसूस होता है ।

प्रस्तावना

बरसात का मौसम बाकि सभी मौसमो से एक अलग ही महत्व रखता है जो सभी जीव-जन्तुओ के जरुरी होता है । इस मौसम के बहार ऐसा होता है की सभी पेड़ पौधे, छोटे – छोटे हरे भरे होकर खिल उठते है । ऐसा लगता है मानो वो कई दिनों से बारिश के बूदों का इंतजार कर रहे थे ।

भयंकर गर्मी के चलते जो सभी पेड़ पौधे व तालाब और नदियाँ सुख गयी रहती है वो फिर से बारिश के चलते वापस हरे – भरे और पानी का स्तर भी बढ़ जाता है । बरसात की वजह से पूरा वातावरण ठंडा व आनंदमय हो जाता है ।

बारिश के मौसम का आनंदमय जीवन 

वर्षा ऋतू के मौसम जून के अंतिम सप्ताह या जुलाई के महीने से शुरू हो जाती है । हिन्दू पंचांग के अनुसार वर्षा आषाढ़ महीने से लेकर भाद्रपद (भादों) महीने तक होता है । इसी बीच में लोग वर्षा ऋतू का सुखमय आनंद लेते है ।

बारिश का दिन लोगो के लिए इसलिए खुशनुमा व सुखद्पुर्वक होता है, क्योकि लोगो बढती गर्मी के चिलचिलाती कड़क धुप परेशान हो गये रहते, जिससे उनको बेशब्री से बरसात के मौसम इंतजार रहता है । और जैसे बारिश का मौसम आता है उनका जीवन आनंदमय हो जाता है व चारो तरफ का मौसम ठंडा हो जाता है ।

वर्षा ऋतू की जरुरत

बारिश का मौसम की सभी के लिय जरुरी होता है, जो पृथ्वी पर वास करते है । बरसात की वजह से सभी जीवित प्राणी को एक नया जीवन मिलता है । जैसे ही धरती पर वर्षा की बुँदे पड़ती है तो जो मुरझा रहे पेड़ पौधे होते है वो सभी हरे – भरे हो जाते है । और पृथ्वी की सुन्दरता सुशोभित होने लगती है ।

ग्रीष्म ऋतू की वजह से जो भी धरती, नदियाँ व तालाबे पूरी तरह से सुख गयी रहती है । जब भी बारिश का मौसम आता है तो फिर से सुखी धरती में नमी व सभी नदियाँ, तालाबे पानी से भर जाते है । फिर से उसमे जीव जन्तु पानी पीने व रहने के लिए भी आते है ।

बारिश के मौसम का आनंद

इस मौसम का सबसे ज्यादा आनंद बच्चो को ही आता है । क्योकि बच्चो को भी भीषण गर्मी की मार झेलनी पड़ती जिससे उनको स्कूल में पढने में परेशानी होती है । जैसे ही बरसात के मौसम आता है बच्चे बहुत ही उत्साहित हो जाता है ।

बारिश के मौसम कुछ बच्चे घर से बाहर निकल बारिश में भीगना पसंद करते है । ये सब कुछ करने में उनको अलग ही आनंद आता है ।

किसी समय कभी – कभी बारिश ज्यादे मात्रा में हो जाती है, तो स्कूल, कॉलेज बंद हो जाते है । जिसके कारण बच्चो के चेहरे पर एक अलग ही ख़ुशी देखने को मिलती है ।

बारिश के मौसम किसानो के लिए मदद

जब भी बारिश का मौसम आता है तो किसानो को बहुत मदद होती है । सुख रही फसल फिर से हरे भरे हो जाते है । जैसे ही बरसात का मौसम आता है तो किसानो के चेहरे पर एक अलग ही ख़ुशी देखने को मिलती है । क्योकि बारिश का सबसे ज्यादा उम्मीद किसान ही लगाकर बैठा रहता है ।

जब बारिश होती है तो किसानो के लिए कृषि करना आसान हो जाता है । फसल अच्छी होती है तो किसानो की आमदनी व आर्थिक स्थिति मजबूत होती है । फसलो की अच्छी पैदावार के लिए बारिश का होना अत्यंत आवश्यक है ।

निष्कर्ष

अगर पृथ्वी व वातावरण को संतुलन होने के लिए बारिश का होना जरुरी है । क्योकि पृथ्वी पर जल ही जीवन माना जाता है । बारिश होने के पृथ्वी का एक अलग ही नजारा देखने को मिलता है, बारिश के बाद उसकी सुंदरता झलकती है ।

पृथ्वी पर रह रहे सभी जीवित प्राणी चाहे पंक्षी या जंगली जानवर, जीव जन्तु या मनुष्य ही क्यों ना हो सभी लिए पानी का महत्वता बहुत ही अहम होता है । इसलिए धरती पर बरसात का होना बहुत ही आवश्यक है ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!