वर्षा ऋतु पर निबंध हिंदी में । Rainy Season Essay in Hindi

जैसे ही गर्मी के मौसम जाता है वैसे ही वर्षा ऋतु का आगमन होता है और ये हमारे लिए कई सारी खुशियों का पल भी लेकर आता है । हमारे भारत देश में वर्षा का आगमन जुलाई, अगस्त और सितम्बर के महीने में होता है । भारत में वर्षा ऋतु चार ऋतुओं में एक है जो सबसे खास होता है ये ऋतु मुख्य रूप से तीन महीने का होता है जो आषाढ़, श्रावण तथा भादों मास मुख्य रूप से होता है ।

अकसर लोग गर्मी, लू, तेज धुप से लोग चिढ-चिढ की वजह से लोगो की बेशब्री से बारिश के मौसम का इंतजार करते है । परन्तु लोगो को ज्यादे बारिश की वजह से दिक्कतो का भी सामना करना पड़ता है । जब हल्की – हल्की बारिश होती है तो बहुत ही सुनहरा मौसम होता है, लोगो इस समय का आनंद व लुफ्त उठाते है ।

प्रस्तावना  

भारत में हर वर्ष वर्षा ऋतु जुलाई के महीने में शुरुवात होती है । इस सुनहरा बारिश के मौसम का बहुत इंतजार रहता है । ये ऋतु जुलाई यानि की आषाढ़ से शुरू होकर सितम्बर यानि भादों (भाद्रपद) तक होती है। ये मौसम का लोगो बहुत ही उत्सुकता से इंतजार रहता है । ये ऋतु का लोगो साथ ही साथ पेड़ – पौधों और सभी चिड़िया, जानवरों के लिए भी जरुरी रहता है, जो सभी जीव जन्तु प्यास से मर रहे होते है उनके लिए किसी अमृत से कम नही होता है । इस मौसम से सभी जीवित पशु, पंक्षियों और मनुष्यों के लिए राहत के साथ – साथ सुकून भी मिलता है ।

बरसात के समय आसमान में बादल के साथ नीला आसमान चमकता हुआ दिखाई देता है । इस बारिश के मौसम में कई बार तो इंद्रधनुष भी दिखाई देता है जो सात रंग में होता है । बारिश के बाद पूरा वातावरण बदल जाता है, जंगल और वादियों को देखने में बहुत ही सुंदर सा लगता है ।

जैस ही बारिश आती है तो पुरे जंगल व वन जो सुख रहे होते है, पानी के बिना वो पुनः हरे – भरे मनमोहक हो जाते है उनके वजह से पूरा वातावरण बहुत सुंदर व आकर्षक दिखता है ।

प्राकृतिक पर वर्षा ऋतु का प्रभाव

जब बरसात का मौसम आता है तो सभी नये पेड़ पौधे उगने के साथ सूख रहे पेड़ भी हरे हो जाते है जिससे प्रकृति की सुन्दरता बढ़ जाती है । बरसात जब भी होती है तो उनसे जुड़े सभी स्रोत जैसे की तलाबे, नदियाँ और छोटे – छोटे गड्ढे पानी से भर जाते है । कई जगह खेल के मैदान और सड़के के साथ नालियाँ भी भर जाती है ।

वर्षा ऋतु का मौसम कितनो को अच्छा लगता है तो कई लोगो को पसंद नही आता है । क्योकि जब भी हल्की बारिश होती है तो चारो तरफ कीचड़ – कीचड़ हो जाता है ।

अधिक बारिश का दुष्प्रभाव

ये वर्षा ऋतु का मौसम जब भी आता है तो खुशियों से साथ गम का भी पल आता है । जब कभी भी बारिश की मात्रा ज्यादा होती है तो लोगो की मुसीबत बन जाती है । ज्यादा बारिश होने की वजह से कई जगह बाढ़ जैसे हालात हो जाते है, जिससे लोगो का जन-जीवन प्रभावित होता है । कई जगह लोग बारिश के बाढ़ की वजह से घर से बेघर हो जाते है कही दुसरे जगह जाकर आश्रय लेता है जबतक बाढ़ के प्रभाव कम होने पर फिर सब अपने घर को मरमत करके रहने लगते है ।

कई जगह छोटे – छोटे गड्ढो में पानी भरने की वजह से विनाशकारी जीवाणु पैदा होता है जिससे कई तरह की संक्रामक बीमारियाँ फैलता है। जैसे की डायरिया, पेचिश, टाईफॉइड और पाचन से संबधित कई बीमारियाँ होती है ।

वर्षा ऋतु का महत्व

वैसे देखा जाये तो सब ऋतुओ का एक अलग ही महत्व है । परन्तु वर्षा ऋतु का एक खास ही महत्वता दी जाती है क्योकि सभी जिव जन्तु गर्मी से बेहाल होकर बेशब्री से बारिश का इंतजार करते है । जहाँ तक सबको पता है इस धरती पर जल के बिना जीवन संभव नही है ।

जैसे ही बारिश का मौसम आता है सब आनंद से प्रफुलित हो जाते है । बारिश की कमी की वजह से पानी का अकाल पड़ जाता है धरती पर रहने वाले सभी जीव जंतुओं का बुरा हाल हो जाता है । इससे सभी जीवित प्राणी के जन-जीवन पर बहुत बुरा असर पड़ता है ।

भारत एक कृषि प्रधान देश है, और बिना बारिश के कृषि करना संभव ही नही है । इसी कारणवश सभी किसान बहुत ही उत्सुकता से वर्षा का इंतजार करते है और जैसे वर्षा ऋतु का आगमन होता है तो किसान ख़ुशी से झूम उठते है क्योकि उनके सुखे खेतो में हरियाली आती है साथ में पानी की कमी भी पूरा हो जाता है ।

वर्षा ऋतु का दृश्य

वर्षा ऋतु के आते ही पृथ्वी का एक अलग ही झलक देखने को मिलता है । जैसे ही धरती पर बारिश की बुँदे पड़ती है तो पृथ्वी से एक अलग ही तरह की सुगंध उठने लगती है ।

सभी पेड़ पौधों हरे भरे हो जाते है और सभी वृक्षों में नया जीवन आ जाता है । पंक्षी से ख़ुशी से शाम के समय कलरव करने लगते है, आसमन में छोटे – छोटे बादल की वजह वातावरण बहुत ही सुंदर दिखता है ।

वर्षा ऋतु की विशेषताये

जब भी बारिश आता है एक अलग ही विशेषता देखने को मिलती है ।

  • वर्षा ऋतु के आ जाने से किसानो को खेती करने के लिए अनुकूल हो जाता है ।
  • जहा – जहा सुखा अकाल पड़ा रहता है तो वहा फिर से जल का स्तर बढ़कर उपर आ जाता है ।
  • वन व जंगल जो भयकर गर्मी के सुखा पड़ने की वजह जो सुख रहे होते है वो सभी पुनः हरे भरे हो जाते है ।
  • मनुष्य को बारिश की वजह से भयंकर गर्मी से राहत मिलता है ।
  • गर्मी से सभी व्याकुल पशु पक्षियों के अंदर एक नई जीवन का आगमन होता है ।

निष्कर्ष

जब बारिश का मौसम आता है वो सभी के लिए खुशियों का मौसम लाता है । बरसात फायदे के साथ – साथ नुकसान का कारण बन जाता है । ज्यादे बारिश के वजह से फसलो के साथ घरो का भी नुकसान पहुँचता है । इसलिए हमें चाहिए की सरकार के साथ इससे मजबूती से लड़ने के लिए कोई ठोस कदम उठाने चाहिए ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!