26 जनवरी/गणतंत्र दिवस पर निबंध l Republic Day 2022 Essay In Hindi

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाने वाला एक पर्व त्यौहार है l और इसी 26 जनवरी के दिन भारत का संविधान लागु हुआ था l भारत का संविधान 26 जनवरी 1950 में लागु हुआ था l इसी दिन अंग्रेजो के द्वारा लागु किया गया कानून हटाकर, भारत के संविधान को अपनाया गया l

संसद से भारतीय संविधान लागु होने के बाद हमारा भारत एक लोकतान्त्रिक गणराज्य बन गया और यही एक महत्वपूर्ण कारण है जिससे हम सभी राष्ट्रीय त्यौहार के रूप में बड़े आनंदपूर्वक मनाते है l

हमारा देश आज़ादी के बाद से 9 दिसम्बर 1947 को संविधान बनाने की शुरुवात की गयी, जिसे पूरा होने में 2 साल 11 महीने 18 दिन में बन कर तैयार हुआ l इस दिन भारत सरकार द्वारा पूर्णरूप से स्वराज्य घोषित कर दिया गया था l

स्वराज्य की घोषणा –

हमारे देश के भारत में लौहार अधिवेशन में इस प्रस्ताव की घोषणा की गयी थी l यदि अंग्रेजो के सरकार सरकार द्वारा 26 जनवरी 1930 तक हमारे भारत देश को डोमिनियम का दर्जा नही दिया गया था l तभी तो भारत को पूर्ण रूप से स्वतंत्र घोषित कर दिया जायेगा और ब्रिटिश सरकार ने एस बात पर निर्णय नही लिया था l

भारतीय कांग्रेस द्वारा 26 जनवरी 1930 को पूरी तरह से पूर्ण स्वराज्य घोषित कर दिया गया l जो ये अधिवेशन थे वह पंडित जवाहरलाल नेहरु की अध्यक्षता में दिसम्बर 1929 में हुआ था l

इतिहास –

हमारे भारत देश के आज़ादी के बाद 9 दिसम्बर 1947 को संविधान बनाने की प्रक्रिया शुरू की गयी l जिसे 2 वर्ष 11 माह 18 दिन माँ बनाकर तैयार किया गया l गणतंत्र दिवस के दिन ही पुरे भारत को कांग्रेस सरकार द्वारा पूर्ण स्वराज्य को घोषित कर दिया गया l और उसी दिन 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाने लगा l

हमारे भारतीय संविधान के निर्माण के लिए 22 समितियों को चुनकर उनका चुनाव किया गया l जिनका मुख्य कार्य संविधान का निर्माण एवं संविधान बनाना था l संविधान सभा द्वारा संविधान निर्माण के लिए 114 दिनों की बैठक की गयी l

जिसमे 308 सदस्यों ने भाग लिया और उस बैठक में मुख्य सदस्य डॉ भीमराव अम्बेडकर, सरदार बल्लभ भाई पटेल, पंडित जवाहरलाल नेहरु और डॉ. राजेंद्र प्रसाद, अब्दुल कलाम इत्यादि लोग थे l

इसके अलावा भी संविधान सभा के बैठक में जनता एवं प्रेस वालो को भी सम्मलित किया गया था l इसके बाद 26 जनवरी 1950 में पुरे देश में संविधान लागु किया गया l 26 जनवरी की महत्वता बनाये रखने के लिए और गणतंत्र स्वरुप को मान्यता देने के लिए 26 जनवरी के दिन को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है l 26 जनवरी के दिन 1950 को पुरे देश में कानून और भारतीय शासन को लागु कर दिया गया l

कार्यक्रम

26 जनवरी यानि की गणतंत्र दिवस हमारे भारत देश में राष्ट्रिय त्यौहार के रूप में मनाया जाता है l 26 जनवरी के दिन भारत के राष्ट्रपति द्वारा समारोह में (ध्वज) तिरंगे को फहराया जाता है l और 21 तोपों की सलामी दी जाती है, साथ ही में 26 जनवरी में शामिल सभी नागरिको द्वारा सामूहिक रूप से खड़े होकर राष्ट्रगान के साथ – साथ तिरंगे को सलामी दिया जाता है l गणतंत्र दिवस के दिन अलग – अलग रेजिमेंट, भारतीय तीनो सेनाए (जल, नभ, थल) शामिल होता है l

निष्कर्ष

हमारे देश के हर कोने- कोने में बड़े उत्साह और आनंदपूर्वक मनाया जाता है l सभी छात्र मिलकर अपना – अपना कार्यक्रम प्रस्तुत करते है l 26 जनवरी के दिन देश का शहीदों के उनके बलिदानों को यादकर उन्हें सलामी दिया जाता है l गणतंत्र दिवस के दिन बीटिंग द रिट्रीट का आयोजन किया जाता है l

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!