शिक्षा में प्रौद्योगिकी के योगदान पर निबंध – Technology in Education in Hindi

अगर हम इस युग की बात करे तो हमारे जीवन में प्रौद्योगिकी का एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है । क्योकि हम इस वर्तमान समय जिस युग में जी रहे है वो एक डिजिटल युग है । हर दिन बीतते के साथ ही बाजार में नई तकीनीकी का साफ्टवेयर प्रदान किया जा रहा है ।

वैसे देखा जाये तो हमारे जीवन में दिन प्रतिदिन बेहतर और आरामदायक बनाने के लिए प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया जाता रहा है । वही शिक्षा के बारे में बात करे तो उसका तरीका हमेशा से एक जैसा नही रहा है उसमे लगातार बदलाव आता रहा है ।

शिक्षा के शुरुवात के समय में कोई भी नोटबुक या किताबे नही होती थी । छात्र वही सब सीखते थे जो कक्षा में अध्यापक सिखाया करते थे । उसके धीरे – धीरे जैसे तकीनीकी में सुधार होने लगा वैसे ही कागज और कलाम का भी अविष्कार हुआ और ये प्रक्रिया तभी से आगे बढ़ना शुरू हो गया है ।

आज के समय में देखे तो हमारे पास शिक्षा प्राप्त करने की अनेको तकनिकी उपलब्ध है जिसकी मदद से हम ऑफलाइन या ऑनलाइन सीख सकते है । आज की तकनीक के सहारे बच्चो को घर पर ही समझने और पढने की शिक्षा दी जा रही है । इससे लोगो को मदद भी मिल पा रही है जो भी विद्यार्थी या बच्चा स्कूल जाने में असमर्थ है वो घर पर अपनी शिक्षा आसानी से प्राप्त कर ले रहा है ।

प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक नया अध्याय माना जा रहा है क्योकि ये उतना ही जरुरी है, क्योकि यह शिक्षा का एक मुलभुत अंग है । यदि आप आज के ज़माने किसी भी विषय या पाठ्यक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आपको ऑनलाइन के माध्यम से सब आसानी से उपलब्ध करा सकते है ।

तकीनीकी शिक्षा का एक अभिन्न अंग

आजकल तकनीक शिक्षा के एक अभिन्न प्रारूप बन गया है । जो छात्रो को अपने सवाल का हल ढूढने में कोई परेशानी नही होती है । इस वर्तमान समय में शिक्षा प्राप्त करने के कई तरीके उपलब्ध हो चुके है, जैसे कई वेबसाइटे और ऐप उपलब्ध है जो जूनियर कक्षा से लेकर सीनियर कक्षा तक की पूरी पढाई उपलब्ध है । ऐसी सुविधा की वजह से बच्चे अपनी समस्या या किसी प्रश्न को लेकर कोई भी शंका होती है तो वो आसानी से अपने शिक्षको से लाइव बातचीत करके उसका समाधान निकल सकते है । शिक्षा के क्षेत्र में तकनिकी का बहुत ही विकास हुआ है चाहे वो किसी चीज की गणना करनी हो या किसी का मान निकलना हो वो सब आसानी से ऑनलाइन कैलकुलेटर के माध्यम से निकल सकते है ।

वर्तमान समय की शिक्षा में प्रौद्योगिकी की भूमिका

इस वर्तमान के समय में शिक्षा के स्तर को बढ़ाने के लिए प्रौद्योगिकी की बड़ी भूमिका रही है । ये हमारी शिक्षा को बहुत ही आसान बनाती है । प्रौद्योगिकी ने शिक्षा के स्तर को उन्नति करने में बहुत महत्वपूर्ण योगदान रहा है ।

अगर आजकल छात्रो को देखे तो उनको अपने विषय को पूरा करने के लिए किसी शिक्षक की प्रतीक्षा करने की जरूरत नही पड़ती है । छात्र ऑनलाइन के माध्यम से या किसी ऐप के माध्यम से किसी को समझने और पढने में मदद होती है जो आसानी से जल्दी से पढ़ और लिख भी सकते है ।

आजकल के छात्रो के पास पहले से ही कंप्यूटर और लैपटॉप या मोबाइल जैसे तकनीक के सामन पहले से ही उपलब्ध होता है । इस सब की मदद से आप खुद को भी शिक्षित होने में आसानी से शिक्षा प्राप्त कर सकते है ।

ये शिक्षा के क्षेत्र में प्रौद्योगिकी का महत्व उन लोगो के लिए ज्यादे लाभदायक होता है । जिनके पास ज्यादे समय नही होता है वो लोग जो अपना काम करते है और उनको अपने कौशल को बढ़ाना कहते है तो वे लोग अपना समय निकाल कर इसका उपयोग करते है ।

वैसे 2019 से देखा जाये तो इस प्रौद्योगिकी की तकनीक का उपयोग बहुत ज्यादे बढ़ गया है । क्योकि उस दौरान COVID-19 की वैश्विक महामारी चकते सब स्कूल और कॉलेजों को बंद कर दिया गया था । उस समय ऑनलाइन प्लेटफोर्म का ही उपयोग किया गया । सभी बच्चे और छात्र घर से ही ऑनलाइन लेक्चर ऐप की सहायता से सीखने और पढने लगे ।

इस भारी संकट के दौरान प्रौद्योगिकी की तकनिकी ही सबको सम्भाले रखा नही तो दुनियाँ कितनी पीछे साल हो जाती है । इस सब की दृष्टि से देखे तो हमारे जीवन में प्रौद्योगिकी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है ।

भविष्य की शिक्षा में प्रौद्योगिकी की भूमिका

अगर हम अपाने आने वाले भविष्य के बारे में सोच कर एक बार देखे तो भविष्य की शिक्षा में प्रौद्योगिकी की भूमिका और बढ़ने वाली है ।

आने वाले समय में देखे तो किताबे भी ऑफलाइन की जगह सब ऑनलाइन हो जाएँगी । जिससे स्कूल जाने वाले छात्रो का बैग का बोझ हल्का हो जायेगा । शिक्षा हर किसी के लिए आसान और सरल हो जाएगी । डिजिटल शिक्षा की वजह से पर्यावरण का प्रदुषण कम करने में मदद मिल सकती है ।

इस सुविधा की वजह से हर छात्र को पढने, लिखने, सोचने और समझने की शक्ति को प्रदर्शित करने में सहायता मिलेगा और शिक्षा का स्तर भी बढेगा ।

इस प्रौद्योगिकी की भूमिका की वजह से छात्रो को ज्ञान प्राप्त करने में कोई बाधा उत्पन्न नही होगी । खास करके जो दुरी तय करके स्कूल जाया करता है ।

शिक्षा में प्रौद्योगिकी की सहायता से अनुसन्धान कार्यक्रम के जैसे और भी कई नई चीजे सिखने में मदद मिल सकती है ।

प्रौद्योगिकी की तकनीकी को केवल किताबो तक ही सिमित नही रखना चाहिए, इसके अलावा भी कुछ नया करने के मौका मिलना चाहिए । समय बदलने के अनुसार शिक्षा का तरीका भी बदल जायेगा जिससे छात्रो को कुछ नई और रोमांचक तरीके सिखने को मिलेंगे जो इस तकनीक के द्वारा ही संभव है ।

शिक्षा में प्रौद्योगिकी के योगदान पर 10 पंक्तियाँ

  1. आज के समय में शिक्षा में प्रौद्योगिकी का हर एक किसी के जीवन में एक आवश्यक पहलु बन गई है ।
  2. हर दिन कोई न कोई नया सॉफ्टवेयर आते रहते है जो हमारी जीवन की गतिबिधियो को थोडा सरल बनाते है ।
  3. प्रौद्योगिकी का क्षेत्र का विकास दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहा है । यह तकनीक जितनी तेजी से आगे बढ़ेगी उतना ही छात्रो व अन्य व्यक्तियों को लाभ पहुचेगा ।
  4. आजकल इस प्रौद्योगिकी की भी माग ज्यादे बढ़ गयी है क्योकि ये कंप्यूटर और कई वर्गो अक अभिन्न हिसा बन गया है ।
  5. कंप्यूटर की वजह से छात्र अपने विभिन्न शैक्षणिक वेबसाइटों व अन्य प्लेटफार्म से उनको सीखने में मदद मदद मिलती है खासकर इंटरनेट का उपयोग करके ।
  6. इस प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करके किसी भी प्रश्न का हल उसको सीधा व सरल आसान भाषा में कई तरीके से सीखने को मिलता है । इससे बच्चो को सीखने का बेहतर अनुभव प्राप्त होता है ।
  7. प्रौद्योगिकी के अविष्कार के द्वारा स्कूल, कॉलेजों में स्मार्ट बोर्ड, शैक्षिक सत्र, जैसे मोबाइल ऑडियो, टैबलेट, टच बोर्ड आदी का बेहतर तरीके से इस्तेमाल किया जा रहा है ।
  8. यह तकनीक COVID-19 जैसे महामारी के आपातकालीन के समय ये हमारे बहुत काम आया, इस प्रौद्योगिकी की वजह से हम घर पर सुरक्षित रहकर भी अपनी शिक्षा जारी रख सके ।
  9. प्रौद्योगिकी हमारी शिक्षा प्रणाली का एक अभिन्न हिस्सा बन चूका है जो किसी भी प्रारूप में हमें सुरक्षित तरीके से बचा कर शिक्षा प्राप्त करवा सकता है ।
  10. यह प्रौद्योगिकी हमें कई तरह की सुविधा प्रदान करती है, जैसे की ज्ञान की शिक्षा के साथ – साथ हमें अन्य आवश्यक चीजे भी सीख सकते है ।

प्रौद्योगिकी का महत्व शिक्षा के लिए

ये प्रौद्योगिकी का विकास हर तरफ हमारे सुविधा के महत्वपूर्ण बनते जा रहा है । इस इसकी मांग छात्र ज्यादे करते है क्योकि उनको घर बैठे सिखने में मदद मिलती है । इस प्रौद्योगिकी की वजह से लोगो को अपना कार्यरत नौकरी के छोड़े बिना शिक्षा प्राप्त करने का अवसर मिल जा रहा है ।

यह हमें अप-टू-डेट जानकारी प्रदान करते रहता है जिससे हमें अपने आस – पास हो रही गतिबिधियो से रूबरू करता है । इससे हमें कुछ कठिन प्रश्नों का भी हल आसानी से मिल जाता है । इसकी मदद से शिक्षक को भी अपने छात्रो को रचनात्मक ढंग से पढ़ा सकते है ।

ये प्रौद्योगिकी हमारे समाज के लिए भी एक मुख्य कारक बन गया है । आजकल के छात्रो को टेक्नोलॉजी के वजह से उनको एक कदम आगे रहने में भी मदद करता है और किसी भी चीज को आसानी से समझ सकते है ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!