विज्ञान के चमत्कार पर निबंध हिंदी में । Essay on Miracle of Science in Hindi

21वी सदी का मानव विज्ञान द्वारा सम्भव पक्षियों की तरह ही खुले आसमान में उड़ पाने में सक्षम है। आज विश्व स्तर पर विज्ञान ने अनुसंधान द्वारा लोगों के मौजूदा तथा आने वाले जीवन को और भी बेहतर बना दिया है।

हर वो वस्तु या कार्य जो पहले असम्भव लगती थी अब सिर्फ और सर्फ विज्ञान जगत में अत्यधिक विकास से मुमकिन औऱ सरल हो गया है। अर्थात मनुष्य आज फर्श से अर्श तक पहुंच पाया है केवल विज्ञान की सहायता से।

विज्ञान से विकास

लोगों की ज़िंदगी औऱ विज्ञान एक-दूसरे के पूरक बन गए हैं। विज्ञान द्वारा मनुष्य ने अमूल्य व असीमित शक्ति हासिल की है।

आज विज्ञान के बढ़ते हर तरफ सफलता की वजह मनुष्य की  दुनिया के हर क्षेत्र में आगे बढ़ती हुई नजर आ रही है। विज्ञान में हुए अत्यधिक वृद्धि के कारण ही आज मानव जाति ने पृथ्वी से चाँद व मंगल की दूरी तय कर ली।

चाँद तक की दूरी सम्भव

तत्कालीन शोध के मुताबिक आज भारत के मंगलयान का सही सलामत मंगल की कक्षा में जाना लोगों की विज्ञान जगत में हो रही तरक्की अमूल्य झलक है। पुराने समय में जो कुछ भी असंभव सा लगता था वह सब अब सम्भव हो गयी है। विज्ञान के सफलतापूर्वक उपयोग के द्वारा हर चीज़ साधारण सी लगती हैं।

इस तरह विज्ञान के द्वारा सम्भव नए अविष्कार रोजमर्रा के जीवन में चमत्कार से कम नहीं है।  प्रत्येक दिन एक नवीन अविष्कार, नए वस्तु से मानव परिचित होता है जो उनके जीवन की मुश्किलों को मिटा देने का दावा करता है।

बिजली उपकरण में विकास

अब तो विज्ञान के द्वारा बिजली के कई ऐसे वस्तु का निर्माण सम्भव हुआ है  जिनसे मानव का कोई भी कार्य और भी सरल हो गया है जैसे मोबाइल फोन, टेलीविजन आदि। ये सभी विज्ञान द्वारा किए गए यह सभी शोध मनुष्य के लिए किसी चमत्कार से कम नही  हैं।

आज विज्ञान के द्वारा लंबी दूरी भी तय करना आसान हो गया है। कुछ वर्ष पहले तक एक जगह से दूसरे जगह तक जाने में कई-कई दिन या महीने लग जाते थे परन्तु विज्ञान का यह चमत्कार ही है जो यह सब अब सम्भव हो पाया है।

आज बहुत ही कम वक्त में मनुष्य ने उड़ान भरना दूर आसमान में सम्भव कर दिया है ये एयरोप्लेन, हेलीकाप्टर सब विज्ञान की ही देन है। विज्ञान ने उड़ान के यातायात सरल कर दिए हैं।

विज्ञान मनोरंजन का साधन

आज के आधुनिक समय का मनुष्य जी तोड़ परिश्रम करता है और उसी में दिन रात थकता रहता ही लेकिन विज्ञान ने इन्ही इंसानों को एक खूबसूरत सी चीज भेंट की है और वह है मनोरंजन जैसे दूरदर्शन, रेडियो, कंप्यूटर आदि।

विज्ञान से लाइलाज रोग का हल

आज के आधुनिक युग मे मानव विज्ञान के द्वारा किसी भी तरह की लाइलाज रोगों से किसी भी व्यक्ति को ठीक किया जा सकता है। पहले कुछ रोग जैसे एड्स, कैंसर, टीबी का कोई इलाज नही मुमकिन था परन्तु यह सब अब केवल विज्ञान के ही द्वारा सम्भव हो पाया है।

मनुष्य ने आज इतनी प्रगति देख ली है विज्ञान के क्षेत्र में कि ज़्यादातर रोग का इलाज अब संभव हो पाया है। हर प्रकार की दवाइयां व औषधि विज्ञान से ही विकसित हुई है।

कृषि विकास सम्भव विज्ञान से

कृषि क्षेत्र में आज हमारे किसान भाइयों को विज्ञान द्वारा बहुत मदद मिली है कुछ कृषि मशीनों से बंजर जगह भी उपजाऊ और विकसित बन गया है।

विज्ञान से निर्मित खाद व नए उपकरण, कृषि क्षेत्र में प्रयोग होने वाले पदार्थ,  कृषि संबंधित वाहन, आदि तैयार करने के आज कई कारखानें मौजूद हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!