राष्ट्रीय पक्षी मोर पर निबंध । Hindi Essay on Our National Bird Peacock

मोर जैसा खूबसूरत पक्षी शायद ही कोई होता है और यही वजह है कि इसने देश के राष्ट्रीय पक्षी के नाम में अपनी स्थान बनाई है। अगर आकृती की बात करें तो सभी पक्षियों के मुकाबले यह बड़ा होता है।

यह पक्षी भारत के सभी जगह में देखने को मिल जाते हैं। यह पक्षी लगभग सभी रंगों का मिश्रण होता हैं। इसके पंख हरे रंग के होते हैं और इसके आँख जैसे दिखने वाले आकृति में सभी रंग होते हैं।

मोर की खूबसूरती

पूरे विश्व में कई प्रजाति के पक्षी होते हैं। सभी पक्षी अपनी खूबसूरती व अपनी आकृति की वजह से सबको लुभाते हैं। इन्हीं पक्षियों में अधिक खूबसूरत पक्षी मोर है। इसकी सुन्दरता अतुल्य है जो किसी भी पक्षी की बराबर नहीं कर सकता। इसी वजह से मोर को पक्षियों का राजा कहते हैं।

इस राष्ट्रीय पक्षी के पंख बहुत ही कोमल लगते हैं जिसकी वजह से बहुत ही सुंदर लगते  हैं। इनकी आँखें उतनी बड़ी नहीं होती है अपितु छोटी होती है। इनके पैरों को  पूरा सफ़ेद तो नहीं कह सकते पर सफ़ेद में थोडा मैला दिखाई देता है। इसके राष्ट्रीय पक्षी होने की वजह से हम सभी को इसकी सुरक्षा करनी चाहिए।

मोर का स्वभाव

मोर बहुत ही शर्मीला होता है, जो लोगों से दूरी बनाकर रहता है। इसकी आवाज सुनने में बहुत कर्कश लगती है जो दो किलोमीटर की दूरी से भी सुनाई पर जाती है। इसकी पसंद डालियों पर रहने की है। हमारे देश भारत में लगभग सारे स्थानों पर ये पाएं जाते हैं। जिसमे अहम जगह है राजस्थान, उतरप्रदेश व मध्यप्रदेश।

इनके पंख की बनावट बहुत ही लम्बी होती है और यही वजह है कि ये उतना ऊंचा उड़ नहीं पाते। मोर की पंखों में छोटे आकार की पंखुडियां बनी होती हैं। इसके पंख के आखिर में चाँद जैसी बैंगनी रंग की आकृति होती है, जो दिखने में काफी सुन्दर प्रतीत होती हैं। इनके पंख अन्दर से काफी खोखली दिखती है।

मोर को हमारे देश में सभी पक्षी का राजा कहते है और इसके सिर पर एक मुकुट के जैसी कलगी बनी होती है। इस देश के वैदिक शास्त्रों में मोर को पवित्र पक्षी समझते हैं। अपनी सुंदर बनावट के लिए लोगों को लुभाता है।

मोर की बनावट

मोर एक ऐसा पक्षी है जो उड़  नहीं सकता क्योंकि इसके वजन बहुत ज़्यादा होते हैं और पंखों की विशाल बनावट इसको उड़ने के लिए सक्षम नहीं बनाते। यही वजह है कि ये पक्षी ज़मीन पर ही रहना पसंद करते हैं। इस खूबसूरत पक्षी की गर्दन की लंबाई अधिक होती है और इसका शरीर नीले रंग की बनावट लिए सजा होता है।

मोर का आकार

वैसे हम देखेंगे की मोर ज्यादातर चमकीले नील व हरे में अपनी सज्जा बिखेरते हैं। इनकी पंखों पर चाँद जैसी आकृति दिखाई देती है और यह रूप रेखा काफी सुंदर होते हैं दिखने में। इनके पैर की आकृति भी लंबी होती है।

ऐसी पक्षी की चोंच भूरे रंग लिए ख़ूबसूरत दिखती है। मोर का रंग पूर्ण रूप से स्वेत नहीं होता बल्कि हल्का पीला होता है। इस सुंदर पक्षी का प्रत्येक हिस्सा दिखने में सुंदर प्रतीत होता हैं। परन्तु मोर कभी भी अपने पैर को सुंदर नही समझता।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!