मुफ्त शिक्षा पर निबंध । Essay on Free Education in Hindi

शिक्षा मुफ्त होना यह एक लोगो के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है । यह एक सकारात्मक सोच की तरह ले जाने का काम करेगा । क्योकि आजकल की दुनिया कितनी भ्रष्ट है उस सब से हम सब अच्छी तरह वाकिब है । नेता लोग उचे पद पर बैठे होने के बावजूद भी शिक्षा पर बिलकुल ध्यान नही देते है । उन्हें शिक्षा के स्तर और बढ़ाना होगा तभी देश का अच्छे से विकास हो पायेगा ।

अगर हमारे देश के लोग शिक्षित होंगे तो निश्चित तौर पर देश का विकास होने से कोई नही रोक सकता है । कई लोग वित्तीय समस्या और विभिन्न परिस्थितियां होने के कारण शिक्षा को हासिल नही कर पाते है । हर एक विकसित देशो की या विकसित दुनिया की बात करे तो वहाँ के हर नागरिक को मुफ्त में प्राथमिक और माध्यमिक दर्जे की शिक्षा का प्रदान किया जाता है ।

यदि शिक्षा को मुफ्त कर दिया जाता है तो उस देश का विकास और भविष्य दोनों सुधर जायेगा । इतना करने से देश के विकास में गति मिलेगी, जो हमारे देश को सही दिशा में लेकर जायेगा । शिक्षा सभी के लिए एक समान होनी चाहिए क्योकि एक शिक्षित नागरिक पूरी पाबंदी और लगन से अपने कार्य को आगे बढाता है । जो आम लोग के लिए सुविधाजनक होता है ।

उच्च शिक्षा की समस्या

शिक्षा को एक तरह से देखा जाये तो ये किसी के लिए परेशानी का सबब नही बनता है, बल्कि उन्हें सामाजिक और राजनैतिक जीवन में आगे बढ़ने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम होता है । आजकल देखा जाये तो शिक्षा एक व्यापार बना हुआ है जो लोग ज्यादे से ज्यादे धन कमाने के लिए कर रहे है । अगर किसी को वर्तमान में अच्छी शिक्षा लेनी हो तो उसको बहुत सारे पैसे की जरुरत होती है तब जाके वह आगे की शिक्षा को प्राप्त कर पायेगा ।

शिक्षा को लेकर व्यापार व एकाधिकार नही बल्कि सर्वाधिकार होना चाहिए ताकि सभी एक साथ आगे बढ़ सके ऐसा होना चाहिए शिक्षा के व्यवहार में । शिक्षा को एकाधिकार नही रखना चाहिए, एक समान रखना चाहिए जिससे गरीबी और भुखमरी की समस्याओं से जूझ रहे लोगो का भी उदार हो सके । अन्यथा ये कह ले की देश का भविष्य या दुनिया का भविष्य का विकास कतई नही हो पायेगा ।

लोगो को कम से कम इतना तो शिक्षा देनी चाहिए जिससे वो अपनी परेशानियों का हल निकल सके और अपना भविष्य बेहतर कर सके ।

समाज में शिक्षा की पहचान

आज का समाज के बारे में बात करे तो लोगो को शिक्षित होना बहुत जरुरी है । अगर समाज शिक्षित होगा तो पूरा देश शिक्षित होगा और देश का भविष्य भी सुधरेगा व सही रास्ते पर जायेगा । समाज में शिक्षा का भाव होना ही सबसे महत्वपूर्ण बात है । समाज में शिक्षा के स्तर को बचना है तो लोगो को शिक्षित होना जरुरी होता है ।

समाज में कुछ ऐसे लोग भी होते है जिनके पास वित्तीय सहायता मजबूत नही होता है । आजकल देखा जाये तो देश में जो भी शिक्षा संस्थान होते है अगर वहाँ का हिस्सा बनना है या सीखना है तो पैसे देने की जरुरत पडती  है । परन्तु दुर्भाग्यवश जो गरीब या कम वित्तीय पैसे वाले लोग होते है वो अपने इच्छा के अनुसार स्कूलों और संस्थाओ में प्रवेश नही ले सकते है । उनकी इच्छा अधूरी रह जाती है वे अपने आगे भविष्य की पढाई जारी नही कर पाते है क्योकि उनकी आय उस स्तर की नही होती है ।

इसलिए ऐसा चाहिए की जब भी शिक्षा की बात हो तो सभी को एक समान शिक्षा बिना शुल्क के आधार पर होनी चाहिए ।

शिक्षा भविष्य का आधार

अगर हम शिक्षा को देखे तो हमें आगे सफल होने के लिए भविष्य का एक महत्वपूर्ण आधार है । शिक्षा की बात करे तो सभी के मुफ्त कर देना चाहिए । क्योकि इसे हर व्यक्ति इसका वहन नही कर पाता है । वैसे देखा जाये तो स्कूलों व् संस्थानों में प्रवेश ले के लिए बहुत अधिक फीस की प्रस्ताव रखते है ।

कुछ लोग अपने बच्चे को अच्छे स्कूलों में प्रवेश दिलाने के लिए दिन रात कड़ी मेहनत करते है । परन्तु कुछ लोग ऐसे भी जो इस शिक्षा के लिए पर्याप्त मात्रा में पैसा एकत्रित नही कर पाते है और अपने बच्चे का आगे की पढाई को बंद करा देते है । इसलिए शिक्षा के मामले में सभी के तरफ ध्यान देना चाहिए और सभी को शिक्षा मिलनी चाहिए ।

आजकल देखे तो निजी स्कूलों और विश्वविद्यालयो में प्रवेश फीस बहुत ज्यादे मात्रा में लिए जाते है । शिक्षा ऐसी नही होनी चाहिए, शिक्षा मतलब ज्ञान जो हम पैसे से नही अपनी मेहनत से प्राप्त कर सके ऐसी व्यवस्था होनी चाहिए ।

शिक्षा हर बच्चे का अधिकार है –

शिक्षा पर हर किसी का अधिकार है परन्तु इस समय शिक्षा केवल पैसे वालो को ही अच्छे से मिल पा रही है । यह देखे तो हर कोई मजबूत आर्थिक स्थिति रूप वाले घर में पैदा नही होता है । उसकी इतनी उपलब्धि नही होती है, जिससे वो अपने बच्चे की पूरी पढाई के साथ अच्छी शिक्षा दिला सके ।

अगर लोगो को सफल बनाना है तो शिक्षा को मुफ्त कर देने की आवयश्कता है । कुछ लोग ऐसे होते है जिनके घर में आर्थिक तंगी की वजह से वो अपने बच्चे को कम उम्र में ही काम पर भेज दते है । इसका मतलब यही है को अशिक्षित लोग की वजह से ही देश में बेरोजगारी बढती है । कम आमदनी की वजह से बच्चो को अच्छी शिक्षा नही मिल पा रही है ।

भारत सरकार द्वारा चाहिए की गरीब परिवार में रह रहे बच्चो को मुफ्त में शिक्षा प्रदान की जानी चाहिए । सरकार को इस बारे में ध्यान देने की जरुरत है क्योकि शिक्षा पर हर बच्चे का अपना अधिकार है ।

शिक्षा मुफ्त पर निबंध 10 पंक्तियाँ में

शिक्षा की गारंटी – इसका मतलब यह है को अगर सरकार मुफ्त शिक्षा की गारंटी देती है, तो सभी वर्गो के बच्चो को समान शिक्षा मिलेगा । इससे बच्चो को अपने इच्छानुसार शिक्षा प्राप्त कर सफल होने का अवसर प्राप्त होगा है ।

सुरक्षित जीवन – अगर सुरक्षित से भरी जिंदगी जीने के लिए शिक्षा एक महत्वपूर्ण आधार है । जो हमें एक शिक्षित, सभ्य, शिष्टाचार पुरुष बनाता है, जिसको भविष्य में सफलता प्राप्त करने में आसानी होगी ।

शिक्षा बेहतर दृष्टिकोण – शिक्षा हर किसकी को बेहतर बनाती है । यह हमें सकारात्मक सोच के साथ जीवन को बेहतर तरीके से समझने की क्षमता मिलती है । मुफ्त शिक्षा दृष्टिकोण के माध्यम से सभी के छात्रो के लिए समान होगा ।

रोजगार के अवसर में वृद्धि – अगर सबको मुफ्त शिक्षा मिलेगा तो ज्यादे से ज्यादे छात्र शिक्षित और होशियर होंगे तो रोजगार के अवसर अपने आप बढ़ेंगे ।

समानता की भावना – अगर सभी लोग शिक्षित हो जायेंगे तो वो एक – दुसरे को सम्मान की भावना से देखेंगे । समाज में अच्छा माहौल पैदा होगा ।

निष्पक्षता को बढ़ावा – स्कूल से लेकर समाज तक निष्पक्षता की भावना को बढ़ावा देना एक महत्वपूर्ण कदम है । मुफ्त शिक्षा के वजह से प्राप्त की जा सकती है ।

कक्षा की घनत्व – अगर सबको मुफ्त शिक्षा दी जाएगी तो जाहिर है कक्षा में छात्रों की संख्या में वृद्धि होगी । इससे बच्चो का मनोबल बढेगा और उनके कोचिंग, ट्यूशन फीस के लेकर कोई चिंता नही होगी ।

छात्र ऋण की उपलब्धता – अगर इस चीज की उपलब्धता होगी तो छात्रो के लिए बहुत ही सुविधाजनक होगा पढाई करने में । फिर उनको अपने कॉलेज या विश्वविद्यालय की फीस से चिंतामुक्त रहेंगे, अपने आगे की पढाई मन लगाकर कर सकते है ।

कॉलेज में खुली पहुँच – मुफ्त की शिक्षा दी गयी एक महत्वपूर्ण भूमिका होती है । जो छात्र व बच्चे आसानी से प्राथमिक, उच्च शिक्षा से लेकर डिग्री तक आसानी से शिक्षा प्राप्त कर सकते है ।

छात्रो का अपना भविष्य – अगर मुफ्त शिक्षा छात्र को मिलती है तो वो अपने इच्छानुसार भविष्य को सफल बनाने में मदद हो सकता है ।

निष्कर्ष

मुफ्त की शिक्षा प्रदान करना बहुत ही आवश्यक हो गया है । काफी सारे छात्रो को अपने करियर को चुनने में आसानी होगी । वो अपने इच्छानुसार शिक्षा को ग्रहण कर सकते है ।

सरकार को इस मुफ्त शिक्षा को बढ़ावा देनी चाहिए । जिससे हर वर्ग के छात्रो और बच्चो अपने  जीवन में अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सके । शिक्षित वर्ग के लोग भी इस मुहीम को आगे बढ़ाने में मदद कर सकते है जिससे अनाथ व गरीब बच्चे को शिक्षा मिल सके ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!